आपके Bank Account पर साइबर अपराधियों की नजर, मानेंगे ये सलाह तो नहीं होगा नुकसान

ऐसे किसी भी लिंक, मैसेज पर क्लिक न करें, जिस पर कोई संदेह हो.

ललचाने वाले ऑफर्स से दूरी बनाएं रखें.

हमेशा एड्रेस बार में सही URL टाइप कर वेबसाइट पर लॉग-इन करें.

यूजर आईडी और पासवर्ड केवल ऑथराइज्ड लॉग-इन पेज पर ही दें.

लॉग-इन पेज का यूआरएल ‘https://’ से शुरू हो ‘http:// से नहीं. ‘एस’ का मतलब Secured से है.

ब्राउसर एवं वेरीसाइन सर्टिफिकेट (Verisign certificate) के दाईं ओर नीचे लॉक का चिह्न भी देखें.

नियमित रूप से एंटी वायरस सॉफ्टवेयर, स्पाइवेयर फिल्टर्स, ईमेल फिल्टर्स और फायरवाल प्रोग्राम के साथ अपने कंप्यूटर के प्रोटेक्शन को अपडेट करते रहें.

नियमित रूप से अपने बैंक, क्रेडिट और डेबिट कार्ड की स्टेटमेंट देखते रहें.

यदि कोई फर्जवाडा दिखे तो तुरंत अपने बैंक से संपर्क करें